गुदाद्वार, योनिद्वारा, आंखों, होठों तथा नाक के त्वचा और श्लेष्मिक झिल्ली के मिलन वाले किनारों में जख्म, फटन, चिटकन, दरार का सफल एवं आसान होम्योपैथिक इलाज

लेखक: डॉ. पुरुषोत्तम मीणा ‘निरंकुश’
WhatsApp No. 8561955619 (10AM to 10PM)

अनेक लोगों को उनकी त्वचा और श्लेष्मिक झिल्ली (mucous membrane) के मिलने वाले हिस्सों अर्थात किनारों पर क्रेक या फटन या जख्म हो जाते हैं, कभी न भरने वाली दरारें पड़ जाती हैं। जो बाद में अनेक बार दर्दनाक या लाइलाज रूप धारण कर लेते हैं। ऐसे पीड़ित लोगों को आधुनिक चिकित्सा पद्धति में संतोषजनक समाधान नहीं मिल पाता है, तब वे थक-हारकर आयुर्वेद एवं होम्योपैथी में समाधान तलाशते हैं। मैंने ऐसे कई दर्जन पेशेंट्स का सफल उपचार किया है। सर्वसाधारण की जानकारी हेतु बतलाया जाना अवश्यक है कि होम्योपैथी में नाइट्रिक एसिड या एसिड नाइट्रिक नाम से जानी जाने वाली दवाई का इस प्रकार के रोगी की बीमारी की स्थिति एवं अवस्थानुसार, उचित शक्ति में सेवन कराने से आश्चर्यजनक परिणाम मिलते हैं।

कुछ उदाहरण:
गुदाद्वार, योनिद्वारा, आंखों, होठों तथा नाक के त्वचा और श्लेष्मिक झिल्ली के मिलन वाले किनारों पर जख्म, फटन, चिटकन एवं दरार। जिन्हें त्वचा का क्रेक होना भी कहा जा सकता है।

इस प्रकार की सभी तकलीफों में लक्षणानुसार होम्योपैथी की नाइट्रिक एसिड नामक दवाई अकेली ही या रटानिया, Condurango के साथ तथा कुछ बायोकेमिक साल्ट्स के साथ मिलकर आरोग्य प्रदान करती है।

अत: ऐसी तकलीफों से पीड़ित लोगों को निराश होने की जरूरत नहीं है। यह समस्या लाइज नहीं है। अपने निकट के किसी अनुभवी होम्योपैथ से सम्पर्क किया जा सकता है।-14.10.2018

*नोट:* किसी भी पुरानी या लाइलाज मानी जाने वाली बीमारी से पीड़ित लोगों को, अपनी बीमारी को अपनी नियति नीयति (Destiny) मानकर निराश या हताश (Frustrated or Depressed) होने की जरूरत नहीं है। शुद्ध आॅर्गेनिक देशी जड़ी बूटियों से तथा और होम्योपैथिक दवाइयों से लाइलाज समझी जाने वाली बीमारियों का भी इलाज संभव है। अपने आपपास के किसी अनुभवी डॉक्टर से सम्पर्क किया जा सकता है। देशभर में अनेकानेक अनुभवी तथा योग्य होम्योपैथ तथा आयुर्वेद के डॉक्टर उपलब्ध हैं।

*Online Doctor:* Only Online Health Care Friend and Marital Dispute Consultant (स्वास्थ्य रक्षक सखा एवं दाम्पत्य विवाद सलाहकार) Dr. P. L. Meena (डॉ. पुरुषोत्तम लाल मीणा) Mobile & WhatsApp No.: 8561955619, *Between 10 AM to 10 PM*

Leave a Reply